महत्वपूर्ण-दिवस-सप्ताह-वर्ष

‘World Emoji Day’ : हर भावनाओं को व्यक्त करने का जरिया, जानिए कैसे हुई शुरुआत

world emoji day
Spread It

आज हमारे जीवन में Emoji ऐसे जगह बना चुका है जैसे की ऑक्सीजन के बिना जीवन। आज के समय में लोग अपने सोशल मीडिया के द्वारा लोगों से बात Text फॉर्मेट में कम और Emoji में ज्यादा करते हैं। लोगों के बीच Emoji को लेकर इस दीवानगी को देखते हुए आज 17 जुलाई को दुनियाभर में World Emoji Day मनाया जा रहा है। इसी से आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि लोगों के बिच के कितना प्रचलित है। आज इमोजी हमारे Chat Box से लेकर, Whatsapp Status, Message, Twitter, Instagram और Facebook जैसे हर Social Media के Platforms का जरूरी हिस्सा है। लोग Emoji के जरिये अपने मूड, भावनाओं और विचारों को संक्षेप में प्रस्तुत करते हैं।

तो आइये जानते है इस दिन से जुड़े इतिहास को :

Social Media और Internet पे बढ़ते इस्तेमाल के साथ ही इसका उपयोग भी तेजी से होने के कारण इस दिन को मनाये जाने का फैसला लिया गया था।

साल 2014 से World Emoji Day की शुरूआत हुई थी।

इमोजीपीडिया की शुरुआत साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया के जेरेमी बर्ग ने की।

ऐसा कहा जाता है कि 90 के दशक में जापानी मोबाइल फोन पर इमोजी दिखाई दिए थे। और वहीं से इसकी शुरुआत हुई थी।

एक शोध के अनुसार साल 2010 के बाद Emoji का इस्तेमाल तेजी से बढ़ा और अब उनका उपयोग Website और App में किया जाने लगा।

Emoji Section में कैलेंडर वाले इमोजी में 17 जुलाई दिखता है। इसलिये 17 जुलाई को World Emoji Day मानाया जाता है।

Shigetaka Kurita को फादर ऑफ़ इमोजी कहा जाता है। 1990 में Shigetaka Kurita ने पहली बार इमोजी की शुरुआत की।

Emoji दो शब्दों से मिलकर बना है E और Moji जापानी भाषा में E का मतलब होता है “picture” और Moji का मतलब होता है “character”। इसलिए इसको pictorial message भी कहा जाता है।