महत्वपूर्ण-दिवस-सप्ताह-वर्ष

International Youth Day : युवा हमारे भविष्य की उम्मीद हैं

international-youth-day
Spread It

किसी भी देश के विकास में युवा का योगदान सबसे अहम होता है। भारत के विकास का भी एक बड़ा कारण यहां के युवा ही हैं।


दुनियाभर में हर साल 12 अगस्त को International Youth Day यानी की “विश्व युवा दिवस” मनाया जाता है।


17 दिसंबर 1999 को सयुंक्त राष्ट्र महासभा में यह तय किया गया था कि हर साल 12 अगस्त को अंतराराष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाएगा।


हालांकि इससे पहले संयुक्त राष्ट्र संघ ने 1985 में इंटरनेशनल यूथ ईयर का भी ऐलान किया था।


इसका मकसद दुनियाभर के नौजवानों को सामाजिक, आर्थिक और सियासी मुद्दों पर उनके नजरिए को सामने लाने और इनमें उन्हें बराबर का हिस्सेदार बनाना होता है।


इस वर्ष, United Nations Department of Economic and Social Affairs के विभाग द्वारा संयुक्त राष्ट्र के Food and Agriculture Organization और बच्चों और युवाओं के लिए प्रमुख समूह के सहयोग से यह दिवस मनाया जाएगा।


इस दिन को मानाने का उद्देश्य ये है की युवाओं को आगे बढ़ने का अच्छा अवसर प्रदान किए जाएं, साथ ही साथ युवाओं द्वारा किए उतकृष्ट कार्यों उनके आविष्कारों को देश दुनिया तक पहुंच मिल सके।


भारत जिस तेज गति से आगे बढ़ रहा है उसका कारण यहां की युवा आबादी है। पूरे विश्व में भारत को युवाओं का देश कहा जाता है। अपने देश में 35 वर्ष की आयु तक के 65 करोड़ युवा हैं।


देश के निर्माण के लिए, देश की उन्नति के लिए, देश को विश्व के विकसित राष्ट्रों की पंक्ति में खड़ा करने के लिए युवा वर्ग को ही मेधावी, श्रमशील, देश भक्त और समाज सेवा की भावना से ओत प्रोत होना होगा।


इस साल International Youth Day का थीम “Transforming Food Systems: Youth Innovation for Human and Planetary Health” है।


इस थीम से इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि इस तरह के वैश्विक प्रयासों में बिना युवाओं की भागीदार बनाए सफल नही किया जा सकता है।