महत्वपूर्ण-दिवस-सप्ताह-वर्ष

International Day of the Seafarer : समुद्र के हीरो को उनके निस्वार्थ सेवा के लिए धन्यवाद

international-day-of-seafarer
Spread It

समुद्री मार्ग व्यापार करने का एक आसान तरीका है। पिछले हजारों सालों से दुनिया भर से लोग समुद्री मार्ग से माल भेजते रहे हैं।


इस महामारी के बावजूद दुनिया भर में बिना किसी रुकावट के सप्लाई चेन के पीछे नाविकों का एक महत्वपूर्ण योगदान रहा हैं।


हर साल 25 जून को International Day of the Seafarer यानी की “अंतर्राष्ट्रीय नाविक दिवस” मनाया जाता है।


विश्व व्यापार में नाविकों द्वारा किए गए योगदान के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय नाविक दिवस मनाया जाता है।


संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी International Maritime Organization (IMO) ने 25 जून को वर्ष 2010 में अंतर्राष्ट्रीय नाविक दिवस के रूप में नामित किया।


नाविक दिवस की स्थापना 2010 में मनीला में राजनयिक सम्मेलन द्वारा अपनाए गए संकल्प 19 द्वारा की गई थी, जिसमें नाविकों के लिए प्रशिक्षण, प्रमाणन और निगरानी के संशोधित मानकों को अपनाया गया था।


2011 से, IMO ऑनलाइन दिवस मनाता है जिसमें लोगों से नाविकों को समर्थन और बढ़ावा देने का आग्रह किया जाता है जो वैश्विक व्यापार और परिवहन के लिए आवश्यक हैं।

यह दिन सरकारों, जहाजरानी संगठनों, कंपनियों, जहाज मालिकों और अन्य सभी संबंधित पक्षों को नाविक दिवस को विधिवत और उचित रूप से बढ़ावा देने और इसे सार्थक रूप से मनाने के लिए कार्रवाई करने के लिए प्रोत्साहित करता है।


IMO संयुक्त राष्ट्र की विशेष एजेंसी है जो शिपिंग, सुरक्षा और जहाजों द्वारा समुद्री प्रदूषण की रोकथाम को विनियमित करने के लिए जिम्मेदार है। इसकी स्थापना 17 मार्च, 1948 को हुई थी।

यह दिन इस तथ्य पर प्रकाश डालता है कि हमारे दैनिक जीवन में उपयोग की जाने वाली लगभग हर चीज या तो डायरेक्टली या इनडायरेक्टली रूप से समुद्री परिवहन से प्रभावित होती है।


इस साल के International Day of the Seafarer का थीम ‘A Fair Future for Seafarers’ है।

इस थीम का उद्देश्य नाविकों की दृश्यता बढ़ाना और उनके उचित भविष्य का आह्वान करना है। यह उन मुद्दों पर चर्चा करता है जो महामारी खत्म होने के बाद भी प्रासंगिक रहेंगे जैसे कि नाविकों का उचित उपचार, काम करने की स्थिति, और बहुत कुछ।