महत्वपूर्ण-दिवस-सप्ताह-वर्ष

International Dance Day : “नृत्य का उद्देश्य”, 29 अप्रैल को ही क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस

international-dance-day
Spread It
  • नृत्य, मानवीय अभिव्यक्तियों का प्रदर्शन है।
  • हर साल 29 अप्रैल को International Dance Day यानी की ‘अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।
  • इस दिन को मनाने का उद्देश्य नृत्य की शिक्षा और उसके आयोजनों में भागीदारी के लिए प्रहोत्सान बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।
  • अंतर्राष्ट्रीय नृत्य दिवस को मनाने का फैसला International Theatre Institute ITI की नृत्य समिति द्वारा किया गया था, जो यूनेस्को की प्रदर्शनकारी कलाओं की मुख्य भागीदार थी।
  • 1982 में इसके निर्माण के बाद से, International Dance Committee और International Theatre Institute ITI प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय नृत्य दिवस के लिए एक संदेश लिखने के लिए एक बेहतरीन नृत्य व्यक्तित्व का चयन करते हैं।
  • इसके बाद संदेश का दुनिया की तमाम भाषाओं में अनुवाद होता है और इसे पूरी दुनिया में प्रसारित किया जाता है।
  • इस दिन को मनाने के लिए 29 अप्रैल का दिन इसलिए चुना गया है क्योंकि यह दिन Jean-Georges Noverre के जन्मदिन को समर्पित है जो आधुनिक बैले के निर्माता थे।
  • भारतीय पुराणों में नृत्य को दुष्ट नाशक एवं ईश्वर प्राप्ति का साधन माना गया है।
  • अमृत मंथन के पश्चात जब दुष्ट राक्षसों को अमरत्व प्राप्त होने का संकट उत्पन्न हुआ तब भगवान विष्णु ने मोहिनी का रूप धारण कर अपने लास्य नृत्य के द्वारा ही तीनों लोकों को राक्षसों से मुक्ति दिलाई थी।
  • भारतीय नृत्य उतने ही विविध हैं जितनी हमारी संस्कृति। जिस तरह भारत में कोस-कोस पर पानी और वाणी बदलती है वैसे ही नृत्य शैलियाँ भी विविध हैं। लोक नृत्यों में प्रत्येक प्रांत के अनेक स्थानीय नृत्य हैं, जैसे पंजाब में भांगड़ा, असम में बिहू, आदि।
  • यह दिन उन लोगों के लिए उत्सव का दिन है जो नृत्य के मूल्य और महत्व को देख सकते हैं, और सरकारों, राजनेताओं और संस्थानों के लिए जागने का कार्य करते हैं जिन्होंने अभी तक लोगों को इसके मूल्य को नहीं पहचाना है।
  • इस दिन को दुनिया में सांस्कृतिक, राजनैतिक और भौगोलिक सीमाओं से परे जाकर नृत्य कला का प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है।
  • इस साल कोविड-19 महामारी के चलते दुनिया में लोग एक देश से दूसरे देश नहीं जा सकते हैं इसलिए इस दिवस को वर्चुअल मंच पर ही मनाने का फैसला किया गया है।
  • इस साल के International Dance Day का थीम ‘Purpose of dance’ यानी की “नृत्य का उद्देश्य” है।