महत्वपूर्ण-दिवस-सप्ताह-वर्ष

Bihar Diwas : अतीत की धरोहर के साथ वर्तमान का पथ प्रदर्शन

bihar-diwas
Spread It

चाणक्य जैसे अर्थशास्त्री, चन्द्रगुप्त और अशोक जैसे महान राजा, महावीर और बुद्ध जैसे धर्म प्रवर्तक देने वाला बिहार(BIhar) का आज 109वां स्थापना दिवस है।

➤हर साल 22 मार्च को बिहार की स्थापना दिवस को ‘बिहार दिवस के रूप मनाया जाता है।

➤बिहार दिवस ‘उस दिन’ को मनाने के लिए मनाया जाता है जिस दिन ब्रिटिश शासन के दौरान यह प्रांत अस्तित्व में आया था।

22 अक्टूबर, 1764 को बक्सर का युद्ध, ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना और बंगाल के नवाब, अवध के नवाब, और मुगल राजा शाह आलम द्वितीय की संयुक्त सेना के बीच में लड़ा गया था, जिसमें ईस्ट इंडिया कंपनी को एक बड़ी जीत हासिल हुई।

➤हार के कारण बंगाल के मुगलों और नवाबों ने प्रदेशों पर नियंत्रण खो दिया और ईस्ट इंडिया कंपनी को राजस्व के संग्रह और प्रबंधन का अधिकार मिल गया।

➤उस समय बंगाल प्रेसीडेंसी में पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, उड़ीसा और बांग्लादेश का वर्तमान इलाका शामिल था।

1912 में बिहार को बंगाल से बाहर निकाला गया था।

2005 में बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश कुमार के सत्ता संभालने के बाद बिहार दिवस की शुरुआत हुई और फिर इसे बड़े पैमाने पर मनाया जाने लगा।

➤भारत(India) के अलावा, यह संयुक्त राज्य अमेरिका(America), जर्मनी(Germany), ब्रिटेन(Britain), स्कॉटलैंड(Scotland), ऑस्ट्रेलिया(Australia), कनाडा(Canada), बहरीन(Bahrain), कतर(Qatar), संयुक्त अरब अमीरात, त्रिनिदाद और टोबैगो और मॉरीशस सहित देशों में मनाया जाता है।

➤बिहार में अतीत की धरोहर के साथ वर्तमान का पथ प्रदर्शन भी है।

➤बिहार का इतिहास गौरवशाली रहा है और वर्तमान में भी बिहार का गौरवशाली भविष्य तैयार हो रहा है।

➤साहित्य से लेकर मनोरंजन की दुनिया तक, सभी जगह बिहारी अपना हुनर दिखा रहें हैं, जिसमें पंकज त्रिपाठी(Pankaj Tripathi), ईशान किशन(Ishan Kishan), आदि का नाम शामिल है।

➤हर साल बिहार सरकार आज के दिन सार्वजनिक अवकाश घोषित करती है, जो राज्य और केंद्र सरकार के अधिकार क्षेत्र में आने वाली सभी कंपनियों, कार्यालयों और स्कूलों पर लागू होता है।

➤कोरोना की वजह से इस बार बिहार दिवस पर किसी प्रकार के समारोह का आयोजन नहीं किया गया है।

➤मुख्यमंत्री नीतीश, आज राजधानी पटना के गांधी मैदान स्थित बापू सभागार से बिहारवासियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया।

Add Comment

Click here to post a comment