निधन-श्रद्धांजलि

Sagar Sarhadi Death : नहीं रही दिग्गज निर्माता-निर्देशक, पटकथा और संवाद लेखक सागर सरहदी

sagar-sarhadi
Spread It

‘कभी कभी'(kabhi kabhi), ‘चांदनी'(chandani) और ‘सिलसिला'(silsila) जैसी सुपरहिट फिल्मों के लिए जाने जानें वाले दिग्गज निर्माता-निर्देशक, पटकथा और संवाद लेखक सागर सरहदी(Sagar Sarhadi) का 88 साल के उम्र में निधन हो गया है। आखिरी दिनों में उन्होंने खाना-पीना भी छोड़ दिया था। उन्होंने मुम्बई में सायन इलाके में अपने घर में आखिरी सांस ली।

सागर का असली नाम गंगा सागर तलवार है। सागर सरहदी का जन्म 11 May 1933 को Baffa पाकिस्तान(pakistan) में हुआ था। वो अपने गांव एबटाबाद को छोड़कर पहले दिल्ली के किंग्सवे कैंप और फिर मुंबई की एक पिछड़ी बस्ती रहे। इसके बाद उन्होंने कड़ी मेहनत के दम पर फिल्मों में अपना करियार बनाया।

फिल्म बाजार से उन्होंने डायरेक्शन में डेब्यू किया था। इस फिल्म में स्मिता पाटिल, फारुख शेख और नसीरुद्दीन शाह हैं। 1982 में रिलीज हुई ये फिल्म इंडियन क्लासिक मानी जाती है। वो इस फिल्म के निर्माता, निर्देशक और राइटर तीनों थे.

सागर सरहदी को पॉपुलैरिटी यश चोपड़ा की फिल्म ‘कभी कभी’ से मिली थी। इस फिल्म में राखी और अमिताभ बच्चन थे।

उन्होंने फिल्म Noorie (1979); सिलसिला (1981), चांदनी (1989), रंग (1993), जिंदगी (1976); कर्मयोगी, कहो ना प्यार है, कारोबार, बाजार और चौसर जैसी हिट फिल्मों की स्क्रीप्ट लिखी थीं।

Add Comment

Click here to post a comment