प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में कई फैसले लिए गए हैं। इनमें उत्तर प्रदेश के कुशीनगर हवाई अड्डे को अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा घोषित करने को मंजूरी दी गई है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बैठक में हुए फैसलों की जानकारी दी। उन्‍होंने बताया कि इस कदम से थाईलैंड, मलेशिया, सिंगापुर, श्रीलंका जैसे देशों के अनुयायियों को कुशीनगर आने में आसानी होगी। साथ ही अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में बहुत बड़ा सुधार किया है। सरकार ने स्‍पेस एसेट को सभी के इस्‍तेमाल के लिए खोला है। इसके लिए एक नया संस्थान इंडियन नेशनल स्पेस, प्रमोशन एंड ऑथराइजेशन सेंटर बनाया जाएगा। यह संस्थान निजी कंपनियों को स्पेस गतिविधियों में भागीदारी के लिए सहयोग करेगा।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि पशु पालन के क्षेत्र में इन्फ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाने के लिए एनिमल हस्बैंडरी डेवलपमेंट फंड को मंजूरी दी गई है। इसके लिए 15 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इससे दूध का उत्पादन भी बढ़ेगा और लाखों लोगों को रोजगार मिलेगा। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि देश में करीब 18 से 20 करोड़ लोगों को मुद्रा लोन जबकि 9 करोड़ 33 लाख लोगों को शिशु लोन दिया गया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शिशु लोन के योग्य लाभार्थियों को 12 महीनों के लिए ब्याज में दो फीसद की छूट देने करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में 1482 अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक और 58 मल्टी स्टेट बैंक हैं। इन बैंकों को तुरंत प्रभाव से RBI के सीधे सुपरविजन पॉवर में लाने का एक अध्यादेश पारित किया गया है। RBI की शक्ति अब शेड्यूल के साथ-साथ को-ऑपरेटिव बैंकों पर भी लागू होगी। यह कदम बैंकों में 8.6 करोड़ से अधिक जमाकर्ताओं को आश्वासन देगा कि उनकी राशि 4.84 लाख करोड़ रुपये तक सुरक्षित रहेगी।

भारत को आत्मनिर्भर बनाने में मोती का बढ़ा योगदान