बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने 65वीं मुख्य संयुक्त मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा की तिथियां जारी कर दी हैं। आयोग ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट www.bpsc.bih.nic.in पर नोटिस जारी कर बताया है कि 65वीं मुख्य परीक्षा राज्य के विभिन्न केंद्रों पर 4 अगस्त, 5 अगस्त और 7 अगस्त 2020 को आयोजित की जाएगी। परीक्षा का विस्तृत कार्यक्रम जल्द ही bpsc.bih.nic.in पर जारी किया जाएगा। बता दें कुछ दिन पहले ही बिहार लोक सेवा आयोग ने 65वीं मुख्य परीक्षा की संभावित तिथि 25 जुलाई, 26 जुलाई और 28 जुलाई 2020 बताया था लेकिन आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा 2019 के साक्षात्कार कार्यक्रम के कारण इस परीक्षा का डेट आगे बढ़ा दिया गया है। अब लिखित परीक्षा 4 अगस्त, 5 अगस्त, और 7 अगस्त 2020 को आयोजित की जाएगी।

बीपीएससी पीटी परीक्षा 15 अक्टूबर 2019 को हुई थी। पीटी का रिजल्ट 6 मार्च को घोषित कर दिया गया था। मुख्य परीक्षा के लिए 6517 परीक्षार्थी का चयन किया गया। इसके बाद 21 अप्रैल को बीपीएससी ने 5 और उम्मीदवार को पास किया। यानी 6522 उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा के लिए चुना गया है।

बीपीएससी 65वीं मुख्य परीक्षा तीन विषयों की होगी, जिसमें दो अनिवार्य विषय होंगे। सामान्य हिन्दी 100 अंकों का सामान्य अध्ययन (दो पेपर), प्रत्येक 300 अंकों के होंगे। इसके अलावा ऑप्शनल विषयों में से किसी एक विषय को ऐच्छिक विषय के रूप में रखना अनिवार्य है। प्रत्येक ऑप्शनल विषय का एक पेपर होगा जो 300 अंक का होगा। प्रत्येक विषय की परीक्षा की अवधि तीन घंटे की होगी।

सामान्य हिन्दी के क्वलिफाइंग मार्क्स 30 अंक हैं जो अनिवार्य है। मेरिट सूची में इसकी गणना नहीं की जाएगी। बाकी विषयों में सामान्य श्रेणी के लिए 40 प्रतिशत, पिछड़ा वर्ग के लिए 36.5 प्रतिशत, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लिए 34 प्रतिशत, एससी, एसटी, महिला, दिव्यांग वर्ग के लिए 32 प्रतिशत मार्क्स हासिल करना अनिवार्य है। इससे कम मार्क्स लाने पर उम्मीदवार प्रतियोगिता से बाहर हो जाएंगे।

मुख्य परीक्षा में प्राप्तांकों के आधार पर मेरिट सूची बनेगी और सफल उम्मीदवारों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा जो 120 मार्क्स का होगा।

भारतीय स्टेट बैंक में 444 पदों पर भर्ती, ऐसे करें आवेदन