कोरोना की वजह से देशभर में कई चरणों में लगे लॉकडाउन की वजह से लगभग हर क्षेत्र बड़े स्तर पर प्रभावित हुआ और कई जगह काम भी ठप पड़ गए हैं। लेकिन इन सबके बीच भारतीय रेल ने कई तरह के कामों को सफलतापूर्वक पूरा किया और कई तरह के निर्माण कार्य भी किए। अब भारतीय रेल ने एक और नया कीर्तिमान बनाया है। 

इंडियन रेलवे को कम समय में ज्यादा से ज्यादा माल ढुलाई को लेकर एक प्रयोग में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। रेलवे ने पहली बार डबल स्टैक कंटेनर को इलेक्ट्रिक रूट पर चलाने में सफलता प्राप्त कर ली है। हाई राइज़ ओवर हेड इक्विपमेंट को लेकर रेलवे ने अपनी तरह का एक नया बेंचमार्क तय किया है। 7.57 मीटर की उंचे वायर वाले रूट पर पश्चिम रेलवे ने यह प्रयोग किया। रेलवे द्वारा यह प्रयोग दुनिया में अपनी तरह का पहला ऐसा प्रयोग है और इससे ग्रीन इंडिया मिशन को भी पूरा करने में कामयाबी मिल सकेगी। इसके साथ ही भारतीय रेल दुनिया की ऐसी पहली रेलवे बन गई है, जिसने डबल स्टैक कंटेनर की मदद से माल ढुलाई की है। लॉकडाउन में एक लंबे समय के नुकसान होने के बाद भी रेल मंत्रालय इस कोशिश में है कि​ पिछले साल के मुकाबले इस साल ज्यादा से ज्यादा माल ढुलाई की जाये।

रेलवे के मुताबिक, ‘यह जबरदस्त उपलब्धि पूरी दुनिया में अपनी तरह की पहली पहल है और यह भारतीय रेलवे के लिए एक नवीनतम हरित पहल के रूप में ग्रीन इंडिया के महत्वाकांक्षी मिशन को भी बढ़ावा देगी। इस उल्लेखनीय विकास के साथ, भारतीय रेलवे गर्व से ओएचई क्षेत्र में उच्च पहुंच के साथ डबल स्टैक कंटेनर ट्रेन चलाने वाला पहला रेलवे बन गया है, जिसके संचालन को 10 जून, 2020 को गुजरात के पालनपुर और बोटाद स्टेशनों से सफलतापूर्वक शुरू किया गया था।’

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर भारतीय रेल की इस उपलब्धि के बारे में बताया और एक वीडियो भी शेयर किया। उन्‍होंने कहा कि रेलवे ने पहली बार OHE Electrified स्‍टेशनों के बीच डबल-स्टैक कंटेनर ट्रेन ट्रेन का सफलतापूर्वक संचालन कतिया गया है। वहीं, भारतीय रेल के मुताबिक, इस उपलब्धि से ग्रीन इंडिया के महत्वाकांक्षी मिशन को भी बढ़ावा मिलेगा।