इंटरटेनमेंट लाइफ स्टाइल

12 घंटे में 21 गाने रिकॉर्ड करने वाले दिग्गज गायक की आवाज रहेगी अमर

90 के दशक का एक ऐसा गायक जिनकी आवाज में एक अलग प्रकार का चैन था सुकुन था, जब वो गाते थे तो ऐसा लगता था मानो बाथ टब में बैठे आराम फरमा रहें हो और अपनी ही मस्ती के लिए गा रहें हो। एक ऐसा गायक जो 90 के दशक में अभिनेता सलमान खान की आवाज बन चुके थे। आज हमारे बीच नहीं रहें। 25 सितंबर को 74 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। वह बीते महीने कोरोना से संक्रमित हुए थे। इस दिग्गज गायक के निधन की खबर सुनने के बाद से बॉलीवुड के साथ ही भारत में उनके चाहने वाले शोक में और स्तंब्ध हैं।

74 साल के एस. पी बालासुब्रह्मण्यम ने हिंदी फिल्मों की गायिकी में भी अपनी एक अलग पहचान स्थापित की। 1989 में आई सलमान खान-भाग्यश्री स्टारर की सुपरहिट फिल्म ‘मैंने प्यार किया’ में सलमान खान के सभी गाने एसपी बालासुब्रह्मण्यम ने गाये थे, जो सुपरहिट साबित हुए थे। उसके बाद उन्होंने सलमान के करियर के शुरुआती दिनों के सभी गाने गाये और कई सालों तक सलमान खान की आवाज के तौर पर भी जाना जाता रहा।

एसपी बालासुब्रह्मण्यम ने अब तक कुल 16 भाषाओं में 40,000 से भी ज्यादा गाने गाये हैं और उन्हें चार भाषाओं – तेलुगू, तमिल, कन्नड़ और हिंदी गानों के लिए 6 बार सर्वश्रेष्ठ गायक के तौर पर राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। उन्हें भारत सरकार की ओर से 2001 में पद्मश्री और 2011 में पद्मभूषण पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है। 8 फरवरी 1981 को एसपी बालासुब्रमण्यम ने सुबह 9 बजे से लेकर रात 9 बजे तक 12 घंटे में 21 कन्नड़ गाने रिकॉर्ड किए थे।