खेल फुल वॉल्यूम 360°

सर जडेजा के छोटे सर्जिकल स्ट्राइक पर भारी पड़े सनराइजर्स

रविंद्र जडेजा एक ऐसा नाम जिनके पास अगर गेंद चला जाये तो फिर बल्लेबाज रन लेने में चार बार सोचता है। मैदान में इनकी फुर्ती का हर कोई कायल है। लेकिन इसके अलावा जडेजा की बोलिंग और बैटिंग भी शानदार रहती है। रवींद्र जडेजा आइपीएल के शुरुआत साल यानी 2008 से ही इस लीग का हिस्सा हैं। इसके बाद वो एक सीजन यानी 2010 में नहीं खेल पाए थे। फिर वो लगातार इस लीग में खेल रहे हैं। जडेजा अब तक आइपीेएल के 11 सीजन में खेल चुके हैं, लेकिन एक बार भी वो अर्धशतक नहीं लगा पाए थे। हालांकि 2012 सीजन में वो 48 रन तक जरूर पहुंचे थे। यानी 11 साल के लंबे इंतजार के बाद वो इस लीग में 2020 यानी 13वें सीजन में अर्धशतक लगाने में सफल रहे और ये उनका अब इस लीग का बेस्ट स्कोर भी हो गया।

चेन्नई सुपर किंग्स के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने आइपीएल 2020 के 14वें मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ अर्धशतकीय पारी खेली। जडेजा ने आइपीएल के अपने 174वें मैच में ये सफलता हासिल की यानी 173 मैचों के बाद उन्होंने इस लीग में पहला अर्धशतक लगाया। इस पारी के साथ उन्होंने आइपीएल में अपने 2000 रन भी पूरे कर लिए।

हैदराबाद के खिलाफ जडेजा ने जो पारी खेली और टीम के लिए बेहद अहम रही। हालांकि उनकी कोशिश सफल नहीं रही और वो टीम को जीत दिलाने में सफल नहीं रहे। जडेजा ने 35 गेंदों पर 50 रन बनाए और अपनी पारी में 5 चौके व 2 छक्के लगाए। उनका स्ट्राइक रेट 142.56 का रहा। जडेजा अब इस लीग के चौथे ऑलराउंडर बन गए हैं जिन्होंने 2000 या उससे ज्यादा रन बनाए हैं और 50 से ज्यादा विकेट भी लिया है।