खेल फुल वॉल्यूम 360°

मोबाइल की प्रीमियर लीग अब क्रिकेट पिच पर, BCCI ने दिया हरी झंडी

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और MPL ने टीम इंडिया के किट स्पॉन्सरशिप के लिए तीन साल का करार किया है। एमपीएल अब नाइकी की जगह लेगा। यह करार नवंबर 2020 से दिसंबर 2023 तक के लिए है। इससे बोर्ड तीन साल की अवधि में प्रति मैच 65 लाख रुपये कमाएगा।

इससे पहले नाइकी ने 2016 से 2020 तक पांच साल का करार किया था जिसके लिए उसने 30 करोड़ रुपये रॉयल्टी के साथ 370 करोड़ रुपये का भुगतान किया था। सितंबर में उसका करार खत्म हो गया। कोरोना वायरस महमारी के वैश्विक प्रभाव के कारण नाइकी के कारोबार को बहुत नुकसान हुआ और वह छूट के समय खोए हुए समय के लिए विस्तार चाह रहा था। बीसीसीआइ ने उसके साथ बातचीत के बाद करार को आगे न बढ़ाने और फिर बाली आयोजित करने का फैसला किया।

भारतीय टीम के लगभग सभी खिलाड़ी इस समय यूएई में जारी आईपीएल में व्यस्त हैं। इस टूर्नामेंट के खत्म होने के बाद भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया रवाना होगी। बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के लिए खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज की शुरुआत 17 दिसंबर को एडिलेड ओवल में डे-नाइट टेस्ट मैच से होगी। इसके बाद के मैच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (26 दिसंबर से), सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (सात जनवरी से) और ब्रिस्बेन के गाबा (15 जनवरी से) में खेले जाएंगे। इससे पहले लिमिटेड ओवर की सीरीज होगी।