एजुकेशन स्कूल

इस दिन आयोजित होगी सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा, जानें आवेदन प्रक्रिया सहित पूरी डिटेल्स

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) 10 जनवरी 2021 को All India Sainik Schools Entrance Examination-2021 (AISSEE) आयोजित करेगी। देश के 23 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में स्थित 33 सैनिक स्कूलों में VI-IX कक्षा में प्रवेश के लिए एंट्रेंस परीक्षा आयोजित की जाएगी। ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया जो 20 अक्टूबर को शुरू हुई थी, वो 19 नवंबर को समाप्त हो जाएगी। शैक्षणिक सत्र 2021-22 से, OBC-NCL श्रेणी के लिए प्रवेश में रिजर्वेशन शुरू किया गया है। सभी 33 सैनिक स्कूलों में कक्षा VI में प्रवेश के लिए अब महिला उम्मीदवार योग्य हैं।

आवेदन लिंक

https://testservices.nic.in/examsys/Root/Home.aspx?enc=Ei4cajBkK1gZSfgr53ImFW8P1Xap7O/lqTK2sIa/rRDXlbK7RGkmsu2VTrfwTNA5

उम्मीदवारों को वेबसाइट https://aissee.nta.nic.in पर पंजीकरण करने के बाद अपने आवेदन जमा करने होंगे। इच्छुक अभ्यर्थी NTA साइट- www.nta.ac.in में प्रवेश के संबंध में सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। कैंडिडेट्स के एडमिशन, प्रवेश लिखित परीक्षा में प्रदर्शन, स्कूल वाइज, क्लास वाइज, केटेगरी वाइज, मेरिट सूचि में रैंक, मेडिकल फिटनेस जो की मेडिकल अधिकारियों द्वारा एप्रूव्ड हों, मूल दस्तावेजों के सत्यापन पर आधारित हैं।

सैनिक स्कूलों का प्रबंधन सैनिक स्कूल सोसायटी द्वारा केंद्रीय रक्षा मंत्रालय के तहत किया जाता है। असम के गोलपारा में सैनिक स्कूल की स्थापना 1964 में हुई थी। इन स्कूलों की परिकल्पना पूर्व रक्षा मंत्री वी.के. कृष्णा मेनन द्वारा, भारतीय सशस्त्र बलों के ऑफिस कैडर्स के बीच क्षेत्रीय और वर्ग असंतुलन की खाई को पाटने के लिए की गयी थी। ये स्कूल पुणे में National Defence Academy और केरल में Indian Naval Academy में प्रवेश के माध्यम से रक्षा बलों में शामिल होने के लिए छात्रों को मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार करते हैं।

उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश / फेलोशिप के लिए एंट्रेंस परीक्षा आयोजित करने के लिए National Testing Agency (NTA) को एक प्रमुख, स्वायत्त और आत्मनिर्भर परीक्षण संगठन के रूप में स्थापित किया गया है। प्रवेश और भर्ती के लिए उम्मीदवारों की क्षमता का आकलन करने के लिए अनुसंधान आधारित अंतरराष्ट्रीय मानकों, दक्षता, पारदर्शिता और त्रुटि मुक्त वितरण के साथ मिलान करने के मामले में हमेशा एक चुनौती रही है। National Testing Agency को इस तरह के सभी मुद्दों को हर क्षेत्र में उपयोग करने, परीक्षण की तैयारी से लेकर डिलीवरी की जांच करने और मार्किंग का परीक्षण करने के लिए सौंपा गया है।