Apple ने शेयर में 10% से अधिक की बढ़ोत्तरी के बाद एक नया रिकॉर्ड कायम किया है। इसके साथ ही Apple अब सऊदी अरामको को पीछे छोड़कर दुनिया की सबसे मूल्यवान सूचीबद्ध कंपनी बन गई। Apple ने मार्केट कैप के मामले में सऊदी अरामको को पीछे छोड़ा है। जून तिमाही के शानदार रिजल्ट के कारण कंपनी के शेयरों के भाव में यह तेजी देखने को मिली है। शुक्रवार को कारोबार बंद होने के समय Apple के शेयरों की कीमत बढ़कर 425.04 डॉलर पर पहुंच गई। इससे कंपनी का बाजार पूंजीकरण बढ़कर 1.82 लाख करोड़ डॉलर तक पहुंच गया।

पिछले साल सऊदी अरामको दुनिया की सबसे मूल्यवान लिस्टेड कंपनी थी। स्टॉक सेशन खत्म होने पर Apple का मूल्यांकन $1.82 लाख करोड़ था जबकि अरामको का $1.76 लाख करोड़ था। Apple Inc. के शेयरों में 13 मार्च के बाद एक दिन में दर्ज की गई यह सबसे बड़ी वृद्धि रही। शुक्रवार को पूरे कारोबारी सत्र में कंपनी के बाजार पूंजीकरण में 172 अरब डॉलर की बढ़ोत्तरी हुई। यह आंकड़ा Oracle Corp के समूचे बाजार पूंजीकरण से अधिक है।

Apple ने जून तिमाही के लिए शानदार रिजल्ट की घोषणा की है। Refinitiv के मुताबिक शानदार रिजल्ट के बाद 20 से अधिक विश्लेषकों ने Apple के स्टॉक का टार्गेट मूल्य बढ़ा दिया है।

एक नया भारत है,स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन