मेहनत जरूर रंग लाती है, अपने उसूलों से समझौता नहीं करना चाहिए : सुमन पटेल

शुक्रवार को मेधा द्वारा आयोजित वेबिनार में बॉलीवुड अदाकारा सुमन पटेल ने पटना विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों से बात की. मगध महिला कॉलेज से अपने बॉलीवुड तक के सफर और इसमें आई परेशानियों के बारे में खुलकर बातें की। उन्होंने बताया की जब वो मगध महिला में पढ़ाई कर रही थी तभी से उन्हें कला छेत्र में काफी रुचि आ गयी थी। जिसके बाद उन्होंने कालिदास में एक्टिंग क्लास जॉइन की। एनएसडी में आने के बाद उन्हें बहुत कुछ सीखने को मिला।

कॉलेज में शर्मीले स्वभाव वाली लड़की और आज जानी पहचानी इस बॉलिवुड अदाकारा ने विद्यार्थियों द्वारा पूछे गए सवाल सफलता कैसे प्राप्त करे? पर बताया की -आप अपनी सादगी कभी न छोड़े और अपने काम के प्रति ईमानदार रहे। कोई भी कार्य करे दृढ़ निश्चयी होकर करें। साथ ही आपको एक बात पर ध्यान नही देना होगा और वो है लोग क्या कहेंगे। साथ ही उन्होंने ने बताया की अगर आपको अपने ऊपर भरोसा है तो सबसे पहले अपने माता पिता को मनाये। आपकी आंखों में अगर उनको वो विश्वाश दिख गया तो आपसे सहमत जरूर होंगे।

अनारकली ऑफ आरा से प्रसिद्धि पाई सुमन पटेल का मानना है अगर आप सपने देखते हो तो उसे जीना भी सीखो। सुमन पटेल का जीवन भी संघर्ष से भरा रहा। वो बताती है की पटना में किसी लड़की को कला के क्षेत्र में आगे बढ़ना बहुत मुश्किल भरा है। माता पिता को मनाना, लोगो के बातों को इग्नोर करना । साथ में अपनी पहचान भी बनाये रखना होता है। लेकिन अगर आप अपनी काबिलियत को पहचान लेते हो और उसपर आगे बढ़ते हो तो आपको सफलता जरूर प्राप्त होगी. उन्होंने लड़कियों के लिये सबसे बड़ी चुनौती की परिवार को कैसे मनाये पर बोला कि आपको अपने पैरेंट्स के सामने तार्किक ढ़ंग से बात रखनी होगी. अगर पैरेंट्स का भरोसा मिल गया तो जीवन में कुछ भी पाया जा सकता है. इसके लिए हिम्मत और लगन काफी मायने रखती है.