1. ‘SCORES’ भारत की किस नियामक संस्था की एक मोबाइल ऐप है?
A. भारतीय स्टेट बैंक  B. भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड
C. पंजाब नेशनल बैंक  D. भारतीय रिजर्व बैंक
उत्तर – B. भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड 

  • बाजार नियामक SEBI (भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड) ने SEBI शिकायत निवारण प्रणाली (SCORES) पोर्टल में शिकायत दर्ज करने के लिए निवेशकों की सहायता के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च की है। इस एप्लिकेशन में शिकायत निवारण के लिए SCORES वेब पोर्टल की सभी विशेषताएं हैं, जो पहले से ही काम कर रहा है। यह ऐप ‘SEBI SCORES’, जो कि iOS और Android दोनों प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है। निवेशकों को भौतिक पत्र भेजने के बजाय SCORES पर अपनी शिकायत दर्ज कराने के लिए प्रोत्साहित करेगा। 

2. टाइम मैगजीन ने दुनिया की 100 शक्तिशाली महिलाओं की सूची में किस भारतीय महिला को ‘वर्ष 1947 की महिला’ के रूप में नामित किया है?
A. अमृत कौर B. इंदिरा गांधी
C. अमृता प्रीतम D. निवेदिता गौतम
उत्तर – A. अमृत कौर 

  • टाइम पत्रिका ने दुनिया की 100 शक्तिशाली महिलाओं की सूची जारी की है, जिन्होंने पिछली शताब्दी को परिभाषित किया है। स्वतंत्रता सेनानी अमृत कौर को पत्रिका ने 1947 के लिए ‘वूमन ऑफ द ईयर’ और 1976 के लिए पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को नामित किया है। अमृत कौर कैबिनेट में शामिल होने वाली पहली महिला बनीं थीं, उन्होंने 10 साल तक स्वास्थ्य मंत्री के रूप में काम किया। उन्होंने भारतीय बाल कल्याण परिषद की स्थापना की थी। 

3. महाराष्ट्र के किस हवाई अड्डे का नाम बदलकर ‘छत्रपति संभाजी महाराज हवाई अड्डा’ कर दिया गया है?
A. मुंबई एयरपोर्ट  B. नागपुर एयरपोर्ट
C. पुणे एयरपोर्ट    D. औरंगाबाद एयरपोर्ट
उत्तर – D. औरंगाबाद एयरपोर्ट 

  • महाराष्ट्र सरकार ने औरंगाबाद हवाई अड्डे का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज हवाई अड्डा कर दिया है। संभाजी, महान मराठा योद्धा छत्रपति शिवाजी के पुत्र थे। इस हवाई अड्डे का संचालन एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा किया जाता है। 

4. किस भारतीय संस्थान ने अनियमित मानव रहित ड्रोन का मुकाबला करने के लिए AI- संचालित ड्रोन विकसित किया है?
A. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास  B. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर
C. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली  D. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई
उत्तर – A. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास 

  •  IIT मद्रास ने बिना लाइसेंस वाले मानव रहित ड्रोन का मुकाबला करने के लिए एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस संचालित ड्रोन विकसित किया है। इससे सशस्त्र बलों और सुरक्षा सेवाओं को महत्वपूर्ण स्थानों पर सुरक्षा सुनिश्चित करने में सहायता मिलेगी। नए विकसित ड्रोन अनियंत्रित ड्रोन के जीपीएस सिस्टम को हैक कर सकते हैं, जिससे इसका उड़ान मार्ग बदलने या इसे सुरक्षित रूप से लैंड करने का निर्देश दिया जा सकता है। 

5. सुधीर भार्गव के बाद भारत के नए मुख्य सूचना आयुक्त के रूप में किसे नियुक्त किया गया है?
A. बिमल जुल्का         B. बिमल अग्रवाल
C. मोहसिन किदवई  D. इनमें से कोई नहीं
उत्तर – A. बिमल जुल्का 

  • सूचना आयुक्त बिमल जुल्का को भारत के मुख्य सूचना आयुक्त (CIC) के रूप में नियुक्त किया गया है। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में सीआईसी के रूप में बिमल जुल्का को पद की शपथ दिलाई। पिछले मुख्य सूचना आयुक्त सुधीर भार्गव 11 जनवरी को सेवानिवृत्त हो गए थे। 

6. किस विश्व चैम्पियन बैडमिंटन खिलाड़ी को चौथे बार ‘टाइम्स ऑफ इंडिया स्पोर्ट्स पुरस्कारों’ में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया?
A. रितुपर्णा दास       B. अर्चना देवधर
C. पीवी सिंधु           D. साइना नेहवाल
उत्तर — C. पीवी सिंधु 

  • रियो ओलंपिक की रजत पदकधारी सिंधु ने पिछले साल स्विट्जरलैंड के बासेल में विश्व चैंपियनशिप का स्वर्ण पदक जीता था। उन्होंने ‘अनब्रेकेबल स्पिरिट ऑफ स्पोर्ट्स’ पुरस्कार भी जीता। उन्हें साल 2010 में पहली बार भारत की नेशनल टीम में जगह मिली। सिंधू ने 2014 में कॉमनवेल्थ गेम्स में कांस्य पदक जीता। उन्हें इसी साल पहली बार दुनिया के टॉप-10 महिला बैडमिंटन खिलाड़ियों में जगह मिली। 

7. भारतीय तीरंदाजी संघ ने किस कप से अपना नाम वापस ले लिया है?
A. विश्व कप     B. एशिया कप
C. अफ्रीका कप  D. इनमें से कोई नहीं
उत्तर — B. एशिया कप 

  • भारतीय तीरंदाजी संघ (एएआई) ने कोरोना वायरस (COVID-19) के डर से बैंकॉक में आगामी एशिया कप विश्व रैंकिंग टूर्नामेंट से अपनी टीम को हटाने का फैसला किया है। भारत हाल ही में थाईलैंड के बैंकाक में 8 मार्च से 15 मार्च तक होने वाले एशिया कप टूर्नामेंट से हट गया है। भारतीय तीरंदाजी टीम का पांच महीने के निलंबन से वापसी के बाद यह पहला अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट होता। 

8. फ्रीडम इन द वर्ल्ड 2020 रिपोर्ट में भारत को कौन सा स्थान प्राप्त हुआ है?
A. 20वां        B. 25वां
C. 12वां         D. 83वां
उत्तर — D. 83वां 

  • अमेरिकी संस्था ‘फ्रीडम हाउस’ द्वारा ‘फ्रीडम इन द वर्ल्ड 2020’ नामक एक रिपोर्ट जारी की गई है। रिपोर्ट के तहत 195 देशों में वर्ष 2019 के दौरान स्वतंत्रता की स्थिति का मूल्यांकन किया गया है। इस रिपोर्ट में भारत की स्थिति अच्छी नहीं बताई गई है। रिपोर्ट तैयार करने के लिए दो संकेतकों का प्रयोग किया गया है, जिनमें राजनीतिक अधिकार (0–40 अंक) और नागरिक स्वतंत्रता (0–60 अंक) शामिल किये गये हैं। इस रिपोर्ट में फिनलैंड, नॉर्वे और स्वीडन को 100 में से 100 अंक मिले हैं, जबकि भारत को 83वां स्थान दिया गया है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2019 में भारत की हिंदू राष्ट्रवादी सरकार द्वारा कश्मीर में लागू किये गये विभिन्न निर्णयों से महत्वपूर्ण लोकतांत्रिक अधिकारों का उल्लंघन किया गया है। 

9. किस भारतीय राजा को विश्व का सर्वकालिक महान नेता चुना गया है?
A. महाराजा रणजीत सिंह    B. महाराजा उदयभान सिंह
C. महाराजा सर कामेश्वर सिंह  D. महाराज छत्रपति शिवाजी
उत्तर — महाराजा रणजीत सिंह 

  • बीबीसी वर्ल्ड हिस्ट्री मैगजीन द्वारा कराए गए एक सर्वेक्षण में महाराजा रणजीत सिंह को दुनिया में सर्वकालिक ‘सबसे महान नेता’ के रूप में चयनित किया गया है। महाराजा रणजीत सिंह 19वीं सदी के सिख साम्राज्य के भारतीय शासक थे। इस पोल में 5,000 से अधिक पाठकों ने भाग लिया और अपने वोट के आधार पर चयन किया। महाराजा रणजीत सिंह को एक सहिष्णु साम्राज्य बनाने के लिए 38 प्रतिशत से अधिक वोटों के साथ चुना गया है। पोल में दूसरे स्थान पर रहे एमिलकर कैबरल को 25 प्रतिशत वोट मिले। कैबरल अफ्रीकी स्वतंत्रता सेनानी थे और उन्होंने अफ्रीकी स्वतंत्रता में प्रमुख भूमिका निभाई थी। 

10. विवाद से विश्वास बिल-2020 कहां से पास हो गया है?
A. राज्यसभा B. संसद
C. लोकसभा D. बिहार विधानसभा
उत्तर — C. लोकसभा 

  • लोकसभा ने प्रत्यक्ष कर माफी योजना ‘विवाद से विश्वास’ विधेयक को पारित कर दिया है। इस कदम से वित्त वर्ष 2019-20 के समाप्त होने से पहले सरकार को राजस्व जुटाने में सहायता मिलेगी। इस बिल का उद्देश्य पुराने टैक्स विवादों का समाधान करना है। यह योजना टैक्स (कर) अधिकारियों के वार्षिक प्रदर्शन के मूल्यांकन का आधार भी बनेगी। बता दें प्रत्यक्ष कर विवाद के मामलों को निबटाने के लिए आम बजट में ‘विवाद से विश्वास’ योजना पेश की गई थी। इस स्कीम के अंतर्गत करदाताओं को केवल विवादित टैक्स राशि का भुगतान करना होगा।