मैट्रिक और इंटर की परीक्षा फॉर्म को किसी कारण नहीं भर पाने वाले छात्र— छात्राओं के लिए एक खुशखबरी है। अब छूटे हुए छात्र परीक्षा फॉर्म भर परीक्षा देंगे और उस परीक्षा का रिजल्ट भी वक्त पर जान सकेंगे। बिहार बोर्ड ने मैट्रिक व इंटर की परीक्षा का फॉर्म नहीं भर पानेवाले छात्रों के लिए विशेष परीक्षा की घोषणा की है। आठ कारणों से मैट्रिक—इंटर परीक्षा में शामिल होने से वंचित विद्यार्थियों के लिए इंटरमीडिएट, माध्यमिक, कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा 2020 आयोजित की जाएगी।

कौन हो सकता है विशेष परीक्षा में शामिल

वैसे रजिस्टर्ड छात्र जो सेंटअप परीक्षा में पास हैं, लेकिन संस्थान के प्रधान की लापरवाही के कारण आनलाइन परीक्षा फॉर्म नहीं भर सके। उन्हें विशेष परीक्षा फॉर्म भरने का मौका मिलेगा। साथ ही उनका रिजल्ट भी श्रेणी के साथ ही जारी किया जाएगा। रजिस्टर्ड, सेंटअप में पास विद्यार्थी जिनका आनलाइन फॉर्म भरा गया पर नॉन सेंटअप की रिपोर्ट भेज दी गई, उनका भी रिजल्ट इसी श्रेणी के साथ जारी किया जाएगा। नियमित, स्वतंत्र कोटि के वैसे पंजीकृत एवं सेंटअप में पास परीक्षार्थी, जिनके संस्थान के प्रधान की लापरवाही से फॉर्म एवं परीक्षा नहीं भरा गया। उनकी प्रायोगिक परीक्षा भी आयोजित की जाएगी, जिसमें उन्हें शामिल होना अनिवार्य होगा।

कब होगी विशेष परीक्षा की तिथि की घोषणा

मैट्रिक—इंटर परीक्षा के बाद कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा संबंधी तिथियों की घोषणा विज्ञप्ति से की जाएगी। इन श्रेणियों के परीक्षार्थी वार्षिक परीक्षा में शामिल नहीं हो सकते।

ये विद्यार्थी भी विशेष परीक्षा में हो सकते हैं शामिल

  • संस्थान के प्रधान की लापरवाही से आनलाइन फॉर्म भरते समय विषय में त्रुटियां की गईं।

  •  जिन छात्रों के प्रवेशपत्र में विषय संबंधी त्रुटि है, उन्हें स्पेशल परीक्षा देनी होगी। वह जारी परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगे।

  •  वैसे पूर्ववर्ती छात्र, जिन्होंने एक्स स्टूडेंट्स के रूप में परीक्षा आवेदन व शुल्क जमा किया गया लेकिन उनके आवेदन को आनलान भरते समय कंपार्टमेंटल कर दिया गया तथा त्रुटि सुधार नहीं किया गया।

  • वैसे परीक्षार्थी जो मैट्रिक इंटर परीक्षा 2019 में पांच विषयों में से एक अथवा दो में फेल होकर कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा, 2019 में भी फेल हो गए हो और मैट्रिक
  • इंटर परीक्षा 2020 में कंपार्टमेंटल परीक्षार्थी के रूप में सम्मिलित होना चाहते थे, पर शिक्षण संस्थान प्रधान ने फॉर्म भरते वक्त  कंपार्टमेंटल की जगह एक्स स्टूडेंट्स कर दिया गया हो इनका रिजल्ट श्रेणी में जारी नहीं किया जाएगा।