फिनलैंड की सोशल डेमोक्रेट पार्टी ने 08 दिसंबर 2019 को प्रधानमंत्री पद के लिए सना मरीन को चुना है। वे 34 साल की हैं। वर्तमान में वे विश्व के किसी भी देश की सबसे कम उम्र की प्रधानमंत्री होंगी। फिलहाल वे फिनलैंड की ट्रांसपोर्ट मंत्री हैं। वे फिनलैंड की सरकार का नेतृत्व करने वाली तीसरी महिला नेता हैं।
फिनलैंड के प्रधानमंत्री एंटी रिने के इस्तीफे के बाद उनकी पार्टी सोशल डेमोक्रेटिक ने उन्हें इस पद के लिए चुना है। पूर्व प्रधानमंत्री एंटी रिने ने 03 दिसंबर 2019 को डाक हड़ताल से निबटने के मामले में गठबंधन सहयोगी पार्टी का विश्वास खोने के बाद पद से इस्तीफा दे दिया था। एंटी रिने के नेतृत्व में सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने अप्रैल 2019 में मामूली अंतर से जीत हासिल की थी।

आइए जानते हैं कौन है सना मारिन 

• सना मारिन का जन्‍म 16 नवंबर 1985 को फिनलैंड में हुआ था। वे साल 2015 में संसद सदस्‍य के रूप में निर्वाचित हुई थीं। वे जून 2019 में परिवहन और संचार मंत्री बनाई गई थीं।  

• उन्होंने साल 2012 में प्रशासनिक विज्ञान में टैम्पियर विश्‍वविद्यालय से स्‍नातक की डिग्री हासिल की। वे इसके बाद राजनीति में सक्रिय हुईं। इसके अलावा वो 27 साल की उम्र में टैम्परे की नगर परिषद की प्रमुख चुनी गई थीं।

• वे साल 2013 से साल 2017 तक सिटी काउंसिल की चेयरपर्सन भी रही थीं। उन्हें साल 2017 में सिटी काउंसिल में फिर से चुना गया था। मरीन ने 27 साल की उम्र में ही राजनीति में कदम रख दिया था और वे उसी समय से तेजी से आगे बढ़ रही हैं।

एक बच्ची की मां हैं सना मरीन 

राजीनितक अस्थिरता के दौर से गुजर रहे फिनलैंड में सना मरीन मौजूदा सरकार में ट्रांसपॉर्ट और कम्युनिकेशन मंत्री हैं। सेंटर-लेफ्ट गठबंधन का नेतृत्व सना के हाथों में होगा और उन्हें पांच अन्य पार्टियों के साथ मिलकर सरकार चलानी होगी। दिलचस्प बात यह है कि इन पांचों पार्टियों की प्रमुख महिलाएं हैं। मरीन ने प्रशासनिक विज्ञान में ग्रैजुएशन की डिग्री हासिल की है। सना विवाहित हैं और एक बच्ची की मां हैं। एक बात और भी दिलचस्प है कि सना की परवरिश समलैंगिक पैरंट्स ने की है और वह अपने व्यक्तित्व का श्रेय अपने पैरंट्स को देती हैं।

विश्व के अन्य युवा प्रधानमंत्रियों के बारे में भी जानिए

विश्व की सबसे युवा प्रधानमंत्री का खिताब इसके पहले यूक्रेन के प्रधानमंत्री ओलेक्‍सी होन्‍चेरुक के नाम था। यूक्रेन के प्रधानमंत्री ओलेक्सी होन्‍चेरुक की उम्र 35 साल है। वे उस समय विश्व के सबसे युवा प्रधानमंत्री थे। उन्होंने अगस्त 2019 में पदभार संभाला था। उनसे पहले नॉर्थ कोरिया के डिक्टेटर किंम जान उन ने वर्ष 2011 में 35 साल की आयु में पदभार संभाला था। वहीं, न्यूजीलैंड की जेसिंदा आर्डर्न प्रधानमंत्री पद के लिए 39 वर्ष की आयु में 2017 में निर्वाचित की गई थीं। लियो वरदकर 40 वर्ष की उम्र में आयरलैंड की प्रधानमंत्री 2017 में चुने गये थे। इमैनुएल मैक्रॉन फ्रांस के लिए 41 वर्ष की आयु में वर्ष 2017 में प्रधानमंत्री बने। जूरी रातस एस्टोनिया के लिए वर्ष 2016 में 41 वर्ष की उम्र में प्रधानमंत्री का पदभार संभाला था। वहीं, 2019 में डेनमार्क के लिए मेटे फ्रेडेरिक्सन 42 साल की उम्र में प्रधानमंत्री चुनी गईं। अगर इतिहास के पन्ने को पलटें तो ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के रूप में विलियम पिट ने यह उपलब्धि सबसे कम उम्र में हासिल की थी, जो की महज 24 साल रही थे। इसके अलावा सबसे अधिक उम्र का रिकॉर्ड मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद के नाम रहा है।